केंन्द्रीय वस्त्र मंत्रालय की पहल, अब तकनीकी जानकारियों से दक्ष होंगे बुनकर

गोरखपुर । केंद्रीय वस्त्र मंत्रालय ने पावरलूम बुनकरों की समस्याओं को दूर करने की पहल की है। इसके लिए हर मंगलवार को चेंबर ऑफ इंडस्ट्रीज के कार्यालय इंडस्ट्रियल स्टेट गोरखनाथ में भारत सरकार के उपक्रम निटरा पावर लूम सर्विस सेंटर के तकनीकी विशेषज्ञ और उद्योग हथकरघा एवं वस्त्रोद्योग के सहायक आयुक्त बुनकरों की समस्याओं का समाधान करेंगे। जरूरत पड़ी तो बुनकरों के कारखाने (जहां पावर लूम लगा है )पर जाकर पावर लूम की खामियों को दूर करेंगे ।

गोरखपुर जिले में 23,000 तथा संतकबीर नगर में तकरीबन 27250 पावरलूम बुनकर हैं ।शहर के गोरखनाथ रसूलपुर दरिया चक पुराना गोरखपुर पिपरा मोहल्ला अजय नगर नथमलपुर हुमायूंपुर समेत दो दर्जन से ज्यादा मोहल्लों में सैकड़ों पावरलूम 24 घंटे चलते हैं ।बुनकरों को तकनीक जानकारियां ना होने के कारण पावरलूम में छोटी मोटी खराबी आने पर वह परेशान हो जाते हैं ।ज्यादातर पावरलूम गुजरात या महाराष्ट्र से आता है ।

इसलिए उसे बनाने में भी बुनकरों को अच्छी खासी रकम खर्च करनी पड़ती है इसको देखते हुए कपड़ा मंत्रालय ने बुनकरों को तकनीकी जानकारियां मुफ्त मुहैया कराने की तैयारी की है। ताकि बुनकर पावरलूम की छोटी मोटी खराब हो को ठीक करने के साथ ही कम समय में अधिक उत्पादन कर सकें मंत्रालय के निर्देश पर चेंबर ऑफ इंडस्ट्रीज के कार्यालय में निटरा पावर लूम सर्विस सेंटर के तकनीकी विशेषज्ञ और उद्योग हथकरघा एवं वस्त्रोद्योग के सहायक आयुक्त हर मंगलवार को बुनकरों की मदद के लिए मौजूद रहेंगे बूंनकरो को तकनीकी जानकारियों के साथ साथ सरकार की योजनाओं के बारे में जानकारी दी जाएगी ताकि बुनकर उसका फायदा उठा सकें।

इस बारे में सहायक आयुक्त उद्योग हथकरघा एवं वस्त्रोद्योग राम बढ़ाई ने बताया कि पावरलूम बुनकरो को योजना की जानकारी एवं उनके द्वारा बनाए गए माल की गुणवत्ता में सुधार हो इसके लिए गोरखपुर में निटरा का सेंटर खोला गया है सेंटर पर बुनकरों को हर तरह की जानकारियां मुहैया कराई जाएंगी।

loading...