रूसी लड़के ने अपने पुनर्जन्म को लेकर का खोला ये बड़ा राज, वैज्ञानिक हुए हैरान !

मॉस्को। रूस के एक लड़के ने मंगल ग्रह और अपने पिछले जन्म को लेकर एेसा राज खोला है कि वैज्ञानिक भी हैरान हैं. वहीं ऐसे में कोई आकर ये कहे कि वह मंगल पर रह चुका है, तो ताज्जुब ही होगा। रूस के एक 20 वर्षीय लड़के ने कहा कि वह अपने पिछले जन्म में मंगल ग्रह पर रहता था।बोरिस्का किप्रियानोविच नाम के इस लड़के ने बाहरी अंतरिक्ष के बारे में अपनी जानकारी से वैज्ञानिकों को भी उलझन में डाल दिया है।

बोरिस्का के माता-पिता का दावा है कि वह जन्म के 2 हफ्ते बाद ही बिना किसी सहारे के अपनी सिर उठा लेता था। कुछ ही महीनों बाद वह बोलने लग गया था। उन्होंने बताया कि वह 2 साल की उम्र में ही लिखना, पढ़ना और ड्राइंग करना सीख गया था। इसे देखकर डॉक्टर भी हैरान थे। उन्होंने कहा कि वह अक्सर ऐसे विषयों पर चर्चा करता था जिनके बारे में उन्होंने उसे कभी सिखाया ही नहीं था, जैसे कि एलियंस की सभ्यताओं के बारे में।

वोल्गोग्राड में रहने वाले बोरिस्का बताते हैं कि पूर्वजन्म में वह मंगल के जिस हिस्से में रहते थे वह हिस्सा अतीत में किसी प्राकृतिक आपदा से ग्रस्त हुआ था। बोरिस्का के मुताबिक मंगल पर रहने वाले लोग लगभग 7 फुट तक लंबे होते हैं फिर भी वे जमीन के भीतर रहते हैं और कार्बन डाई ऑक्साइड में सांस लेते हैं। बोरिस्का बताते हैं कि मंगल ग्रहियों का प्राचीन मिस्त्र के लोगों से काफी घनिष्ठ संबंध था। उन्होंने भी एक बार पायलट के रूप में पृथ्वी का दौरा किया था। उनका कहना है मिस्त्र के सबसे बड़े गीजा के पिरामिड में कई राज दफ्न हैं।

 

loading...