अब हिमाचल में भी पद्मावती का विरोध, सुलगने लगी आग

शिमला। संजय लीला भंसाली की विवादित फिल्म पद्मावती की आग हिमाचल के परवाणू में भी सुलघती हुई नजर आ रही है। हरियाणा की सीमा से लगने वाले इलाकों में इस फिल्म का विरोध हो रहा है। राजपूत और ब्राह्मण समाज से जुड़े लोग फिल्म पर प्रतिबंध लगाने की डिमांड कर रहे हैं।

इस फिल्म को लेकर शनिवार को परवाणू में हिमाचल व हरियाणा के कुछ संगठनों ने बैठक की। हरियाणा के संभाजी ब्रिगेड के महासचिव सुभाष ने बताया कि बैठक में लोगों ने इसका विरोध जताया और सही तथ्यों को सामने न रखने पर भी नाराजगी जताई। उन्होंने कहा, फिल्म देश के किसी भी सिनेमाघर में दिखाई जाती है तो देश में आंदोलन शुरू कर दिए जाएंगे। बुद्धिजीवी राकेश शर्मा ने बताया कि फिल्म को दिखाना हिंदुओं की भावनाओं को ठेस पहुंचाना है।

राजपूत समाज के युवा नेता ठाकुर धर्म सिंह ने कहा कि पद्मावती के पति राजा रतन सिंह चित्तौड़ के महाराजा थे, जिन्हें अलाउद्दीन खिलजी ने धोखे से मार दिया था। पद्मावती उनकी चिता में सती हो गई थी, लेकिन फिल्म में इतिहास को तोड़-मरोड़ कर दिखाया जा रहा है। इस दौरान अरुण शर्मा, पुनीत शर्मा, जयदेव, हरविंदर ठाकुर, चंदन ठाकुर, राकेश ठाकुर, पंकू और मोहिल ठाकुर सहित अन्य मौजूद रहे।

 

loading...