बंधक बनाकर दरिंदों ने लड़की से किया गैंगरेप, खून से लथपथ रोड पर फेंका

सीतापुर। उत्तर प्रदेश के सीतापुर में इंसानियत को शर्मसार कर देने वाली घटना सामने आई है। जहां एक युवती के साथ कुछ दरिंदों ने ना सिर्फ गैगंरेप किया बल्कि खून से लथपथ उसे सड़क किनारे फेंक कर फरार हो गए। वहीं पीड़िता के भाई ने इसका आरोप सुन्नी वक्फ बोर्ड के चेयरमैन जफर फारूकी के भतीजे राजा फारुकी पर लगाया है।

10 रुपए का लालच देकर किया अपहरण
दरअसल घटना लहरपुर कोतवाली क्षेत्र के एक मोहल्ले की है। जहां की निवासी युवती मानसिक रूप से थोड़ी कमजोर है, उसके परिवार वालों ने उसे बाजार से सब्जी लेने के लिए भेजा था। तभी दरिंदों ने उसे 10 रुपए का लालच देकर उसका अपहरण कर लिया। जिसके बाद उसे जंगल में ले गए और 7 लोगों ने उसके साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया।

गैंगरेप के बाद सड़क पर फेंका
वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी युवती को खून से लथपथ गंभीर हालात में चौराहे पर फेंक कर फरार हो गए। बताया जा रहा है कि युवती के शरीर से लगातार खून बह रहा था और वो इस गंभीर हालत में कई घंटों तक चौराहे पर पड़ी रही।

सुन्नी वक्फ बोर्ड के चेयरमैन के भतीजे पर आरोप
वहीं पीड़ित युवती के भाई ने यूपी के सुन्नी वक्फ बोर्ड के चेयरमैन जफर फारूकी के भतीजे राजा फारुकी और उसके 6 साथियों पर गैंगरेप का आरोप लगाया है। उसके अनुसार सुन्नी वक्फ बोर्ड के चेयरमैन जफर फारूकी के भतीजे राजा फारुकी मुख्य आरोपी है।

पीड़िता की हालत गंभीर
वहीं लहरपुर सीओ अखंड प्रताप सिंह ने बताया कि गश्त पर निकली पुलिस ने युवती को गंभीर हालत में चौराहे से उठाकर सीएचसी में भर्ती कराया था। जहां युवती की गंभीर हालत को देख कर डॉक्टरों ने उसे सीतापुर जिला अस्पताल रेफर कर दिया। जहां उसकी हालत चिंताजनक बनी हुई है।

1 आरोपी गिरफ्तार
युवती का विवाह हो चुका है उसका अपने पति से तलाक हो गया है। पुलिस ने गैंगरेप के 7 आरोपियों के खिलाफ लहरपुर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कर लिया है। वहीं, 1 आरोपी को गिरफ्तार किया जा चुका है।

loading...