अमेरिकी विशेषज्ञ बोले- PM मोदी चीन के खिलाफ खड़े होने वाले दुनिया का एकमात्र नेता

वॉशिंगटन। चीनी मामलों के एक शीर्ष अमेरिकी विशेषज्ञ ने कहा है कि पीएम मोदी विश्व के एकमात्र ऐसे नेता हैं जिन्होंने चीन की महत्वाकांक्षी परियोजना ‘बेल्ट एंड रोड’ की मुखालफ़त की थी। अमेरिकी विशेषज्ञ ने कहा है कि यहां तक कि इस परियोजना पर अमेरिका ने भी चुप्पी साध ली है।

अमेरिका के जाने-माने थिंक-टैंक हडसन इंस्टीट्यूट के सेंटर ऑन चाइनीज स्ट्रैटिजी के निदेशक माइकल पिल्सबरी ने अमेरिकी सांसदों के समक्ष कहा कि मोदी और उनकी टीम चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग के इस महत्वाकांक्षी परियोजना के खिलाफ मुखर तरीके से विरोध किया है।

पिल्सबरी ने कहा, ‘विश्व में अभी तक कोई वैश्विक नेता इसके खिलाफ खड़ा हुआ है तो वह हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। कुछ हद तक ऐसा इसलिए भी है क्योंकि चीन की यह परियोजना चीन भारतीय संप्रभुता के दायरे का भी उल्लंघन करती है।’

उन्होंने इस मामले पर अभी तक अमेरिकी सरकार की चुप्पी पर भी निशाना साधा। पिल्सबरी ने कहा, ‘बेल्ट एंड रोड परियोजना की शुरुआत के 5 साल हो चुके हैं। शुरुआती समय को छोड़ दिया जाए तो अमेरिकी सरकार इस पर लगभग खामोश ही रही है।’

 

loading...