बांदा ट्रेन हादसा में 3 की मौत, 20 अन्य घायल, रेल मंत्री का 5-5 लाख मुआवजे का ऐलान

बांदा। चित्रकूट जिले के मानिकपुर जंक्शन पर आज तड़के गोवा से पटना जाने वाली वास्को डि गामा-पटना एक्सप्रेस ट्रेन के 13 डिब्बे पटरी से उतर गए, जिससे 3 लोगों की मौत हो गई और 20 अन्य यात्री घायल हो गए।

चित्रकूट के पुलिस अधीक्षक प्रताप गोपेन्द्र सिंह ने घटनास्थल से फोन पर बताया कि गोवा से पटना जाने वाली 12741 वास्को डि गामा एक्सप्रेस आज तड़के करीब सवा 4 बजे मानिकपुर जंक्शन के प्लेटफॉर्म फॉर्म संख्या-दो से गुजर रही थी। ट्रेन जैसे ही प्लेटफॉर्म से कुछ दूर आगे बढ़ी, उसके 13 डिब्बे पटरी से उतर गए।

सिंह ने बताया कि इस हादसे में 3 यात्रियों की मौके पर ही मौत हो गई है और 20 यात्री घायल हो गए हैं। इनमें 2 की हालत गंभीर है, जिन्हें जिले के अस्पताल में दाखिल कराया गया है। अन्य घायलों को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

उन्होंने बताया कि इस ट्रेन हादसे की वजह से मुंबई, गोवा और पटना जाने वाली ट्रेनों के अलावा कई ट्रेनों का आवागमन प्रभावित हुआ है। फिलहाल बचाव और राहत कार्य जारी है। उन्होंने बताया कि अब कोई भी यात्री डिब्बों में नहीं फंसा है। रेलवे विभाग के वरिष्ठ अधिकारी घटनास्थल पहुंचने लगे हैं। इससे पहले उत्तर मध्य रेलवे के जनसंपर्क अधिकारी अमित मालवीय ने कहा था कि राहत और बचाव कार्य तेजी से चल रहा है। रेलवे के अधिकारी मौके के लिए रवाना हो गये हैं।

हादसे के बाद उत्तर मध्य रेलवे ने हेल्प लाइन नंबर जारी किए हैं:-

इलाहाबाद:- 0532.1072, 0532.2408149, 2408128 ।
मिर्जापुर:- 05442..1072, 05442.220095,220096 ।
चुनार:- 05443..1072, 05443.222487, 222137 ।

 

मृत परिजनों को  5-5 लाख रूपये की सहायता राशि तथा  हादसे में जांच के आदेश

चित्रकूट जिले के मानिकपुर जंक्शन पर आज तड़के गोवा से पटना जाने वाली वास्को डि गामा-पटना एक्सप्रेस ट्रेन दुर्घटनाग्रस्त हो गई। इस  दुर्घटना पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए रेल मंत्री पीयूष गोयल हादसे की जांच के आदेश दे दिए हैं और हताहत यात्रियों के लिए अनुग्रह राशि देने की घोषणा की है। उन्होंने हादसे में मरने वालों के परिजनों को 5-5 लाख रुपए और गंभीर रूप से घायल लोगों को 1-1 लाख रुपए के मआवजे का एेलान किया।

रेलवे बोर्ड में जनसंपर्क महानिदेशक अनिल सक्सेना ने बताया कि रेल मंत्री ने इस हादसे पर दुख व्यक्त किया है और दुर्घटना के कारणों की उच्चस्तरीय जांच के आदेश दे दिए हैं। वह बचाव एवं राहत अभियान पर पूरी नजर रखे हैं जबकि रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष अश्वनी लोहानी घटनास्थल पहुंच रहे हैं।

गोयल ने मृतकों के परिजनों को 5 लाख, गंभीर रूप से घायलों को 1 लाख और मामूली रूप से घायलों को पचास हजार रुपए की राशि दी जाएगी। उन्होंने बताया कि हादसे में घायलों को मानिकपुर एवं चित्रकूट के अस्पतालों में भर्ती कराया गया है और रेल मंत्री ने उनके उपचार के लिए हर प्रकार की सुविधा उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं।

loading...