भारतीय टीम के इन धुरंधरों की कहर से श्रीलंका ढेर

नागपुर। भारत ने श्रीलंका के पहली पारी के 205 रन के जवाब में पहले दिन का खेल खत्म होने तक दूसरे क्रिकेट टेस्ट में एक विकेट पर 11 रन बनाए।

ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन, लेफ्ट आर्म स्पिनर रवींद्र जडेजा और तेज गेंदबाज इशांत शर्मा ने बेहतरीन गेंदबाजी का नमूना पेश करते हुये श्रीलंका को दूसरे क्रिकेट टेस्ट के पहले दिन शुक्रवार को 79.1 ओवर में 205 रन पर समेट दिया। भारत ने इसके जवाब में स्टंप्स तक 8 ओवर में एक विकेट खोकर 11 रन बना लिए।

भारत ने दिन के बचे ओवरों में ओपनर लोकेश राहुल का विकेट गंवाया जिन्हें तेज गेंदबाज लाहिरू गमागे ने बोल्ड किया। राहुल 13 गेंद खेलकर सात रन बना सके। स्टंप्स के समय ओपनर मुरली विजय 28 गेंदों में दो रन और चेतेश्वर पुजारा दो रन बनाकर क्रीका पर थे।

भारत अभी श्रीलंका के स्कोर से 194 रन पीछे है। श्रीलंका ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। इशांत ने श्रीलंका के ओपनरों को निपटाया।

अश्विन और जडेजा ने मध्य और निचले क्रम को समेटा। कोलकाता के ईडन गार्डन के मुकाबले नागपुर के विदर्भ क्रिकेट एसोसिएशन मैदान पर स्पिनरों को अच्छी मदद मिली जिसका फायदा दोनों भारतीय स्पिनरों अश्विन और जडेजा ने उठाया। कोलकाता में अंतिम एकादश से रिलीका किए गए इशांत ने इस मैच में टीम के साथ जुड़कर खुद को साबित किया।

इशांत ने 14 ओवर में 37 रन देकर तीन विकेट हासिल किये जबकि कोलकाता में मात्र आठ ओवर डालकर खाली हाथ रहने वाले अश्विन ने इस बार 28.1 ओवर में 67 रन देकर सर्वाधिक 4 विकेट झटके।

कोलकाता के पूरे मैच में सिर्फ दो ओवर डालने वाले जडेजा ने भी 21 ओवर की गेंदबाजी की और 56 रन देकर तीन विकेट लिए। श्रीलंका की ओर से ओपनर दिमुथ करूणारत्ने ने 147 गेंदों में छह चौकों की मदद से 51 रन बनाये।

करूणारत्ने ने इसके साथ ही साल 2017 में 1000 रन भी पूरे कर लिये। इस साल यह उपलब्धि हासिल करने वाले वह दूसरे बल्लेबाका बने हैं। कप्तान दिनेश चांडीमल ने 122 गेदों में चार चौकों और एक छक्के की मदद से 57 रन बनाए। अपनी पारी के दौरान चांडीमल ने 22वां रन बनाने के साथ ही टेस्ट क्रिकेट में 3000 रन भी पूरे कर लिए।

loading...