गुजरात विधानसभा चुनाव : निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे दलित नेता जिग्‍नेश मेवाणी

नई दिल्ली। गुजरात चुनाव में दलित नेता जिग्‍नेश मेवाणी ने साफ कर दिया है कि वह चुनाव अपने दम पर लड़ेंगे। उन्‍होंने किसी भी पार्टी के साथ मंच साझा करने से साफ इंकार कर दिया और निर्दलीय चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया।

जिग्‍नेश मेवाणी का बयान ऐसे समय पर आया है, जब पीएम नरेंद्र मोदी गुजरात में चुनावी बिगुल बजाने जा रहे हैं। चार रैलियों के साथ वह गुजरात में आज हुंकार भरेंगे।

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, दलित नेता जिग्‍नेश मेवाणी बनासकांठा केबडगाम सीट से निर्दलीय प्रत्‍याशी के तौर पर पर्चा भर सकते हैं। जिग्‍नेश मेवाणी के निर्दलीय चुनाव लड़ने से कांग्रेस और भाजपा दोनों को झटका लगा है।

भाजपा पर जहां दलित वोट बैंक जाने का खतरा मंडरा रहा है वहीं कांग्रेस चाह रही थी कि जिग्‍नेश के पार्टी में आने से उसका वोट बैंक और मजबूत हो। यही कारण है कि इस सीट से अभी तक कांग्रेस ने किसी भी उम्‍मीदवार को टिकट नहीं दिया है।

ट्वीट पर जानकारी देते हुए जिग्‍नेश ने बताया कि वह अब चुनाव मैदान में अकेले उतरेंगे। जिग्‍नेश ने कहा कि वह 2017 के गुजरात चुनाव में किसी भी पार्टी में शामिल नहीं होंगे, चाहे वह कांग्रेस पार्टी ही क्‍यों न हो।

कुछ दिन पहले जिग्‍नेश और कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी की मुलाकात के बाद अटकलें लगाई जा रही थीं कि दलित नेता कांग्रेस से चुनाव लड़ सकते हैं।

loading...