डॉ कुमार विश्वास के पहले पोस्टर से AAP में अंदरूनी घमासान!

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी  के नेता डॉ. कुमार विश्वास इस रविवार को कार्यकर्ताओं के संग पार्टी मुख्यालय में संवाद करने जा रहे हैं। कार्यक्रम के पहले पोस्टर ने ही अंदरूनी घमासान तेज कर दिया। इसमें मुख्यमंत्री और पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल के चेहरे को पीछे छिपाते हुए कुमार विश्वास सामने खड़े हुए दिख रहे हैं।

पोस्टर में बताया जा रहा है कि कुमार विश्वास रविवार 3 दिसंबर सुबह 10 बजे वॉलिटियर्स से संवाद स्थापित करेंगे। खुद कुमार ने भी पोस्टर को री-ट्विट किया है। सोशल मीडिया पर पोस्टर जारी होते ही दूसरे खेमे की ओर से कुमार विश्वास के खिलाफ एक विवादित ऑडियो वायरल कर दिया गया। इसमें वे कह रहे हैं कि ‘मेरी बददुआ से सब खत्म होगा।

सबका जनता पार्टी बनेगा। तीन-चार-पांच साल बाद सब घूमते हुए मिलेंगे। कभी मुस्कराकर कहूंगा नहीं कि तुमने उस समय क्या किया था? जब तुम इस अहंकार में हो कि बड़े-बड़े निवासों में बैठे हो। तीन लोगों ने पार्टी बनाई कुमार विश्वास, अरविंद केजरीवाल व मनीष सिसोदिया। एक मुख्यमंत्री, एक उपमुख्यमंत्री व एक कुछ नहीं।’ ऑडियो की अभी तक कोई प्रमाणिकता की पुष्टि नहीं हो सकी है।

वायरल ऑडियो के जवाब में कुमार के समर्थक ट्रोल्स ट्विटर हैंडल्स ने उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के साले संजय राघव का नाम उछाला है। फेसबुक,ट्विटर व वॉट्सएप पर ‘अमानतुल्लाह खान वाले एपिसोड की रात एक दूसरी पार्टी के फुंके कारतूस के सहारे सगे भाई जैसे दोस्त की हत्या के षड्यंत्र पर कुमार विश्वास के बचपन के दोस्त मनीष जी के साले (जिन पर अक्सर हमारी विरोधी पार्टियां मनीष जी के लिए दलाली का झूठा आरोप लगाती हैं) से बातचीत का ऑडियो है ये।

कुमार विश्वास ने सच ही कहा था कि ऐसे अपने दोस्तों-साथियों को सच बोलने पर छलपूर्वक मारते रहोगे, तो बस बर्बाद हो जाओगे! साले जी से पूरा ऑडियो मांगिए। ज्यादा बेहतर सच सुनने को मिलेगा, लेकिन देंगे नहीं वो’ प्रचारित किया जा रहा है।

loading...