योगी सरकार का पहला बजट पेश, बस ये ही रहा खास!

लखनऊ । योगी सरकार आज बजट पेश करने जा रही है। बजट सत्र की शुरुआत आज विधानसभा में विपक्ष द्वारा कानून के मुद्दे को लेकर जोरदार हंगामे के साथ हुई जिसके परिणाम स्वरप प्रश्नकाल में व्यवधान उत्पन्न हुआ।

11 बजे सदन की कार्यवाही शुरू होते ही समाजवादी पार्टी समेत विपक्षी सदस्यों ने प्रदेश में बढ़ते अपराधों के मुद्दे को जोर शोर से उठाते हुए हंगामा शुरू कर दिया और बैनर तथा पोस्टर लेकर सदन के बीचो बीच आ गए।

योगी सरकार के बजट में थी ये सारी चीजें

कैलाश मानसरोवर यात्रा पर जाने वालों को 1 लाख का अनुदान, सिंधु दर्शन के लिए 10 हजार प्रति व्यक्ति की योजना।

स्कूलों में बच्चों को बैग बांटने के लिए 100 करोड़ का बजट।

सस्ती हवाई सेवाओं से प्रमुख शहरों से जोड़ने की व्यवस्था, आगरा एयरपोर्ट का विकास एवं उच्चीकरण किया जाएगा इसके साथ हेलीकाप्टर सेवा का भी विस्तार करने की योजना।

33200 पुलिसकर्मियों की भर्ती की जाएगी।

प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना के लिए 3 हजार करोड़, बुंदेलखंड की विशेष योजनाओं के लिए 200 करोड़ और पं.

दीनदयाल उपाध्याय नगर विकास योजना के लिए 300 करोड़ का बजट।

बजट में 55 हजार 781 करोड़ की नई योजनाएं शामिल- वित्त मंत्री

कौशल विकास को बढ़ावा देना बजट में शामिल, 24 जनवरी UP दिवस मनाने की योजना, पूंजी निवेश योजना की नीति लागू की जा रही- वित्त मंत्री

2017-18 में 12 हजार 278 करोड़ रुपए की बचत का अनुमान: वित्त मंत्री
किसानों की कर्ज माफी के लिए 36 हजार करोड़ का बजट।

वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने 3.84 लाख करोड़ का बजट सदन में पेश किया।

विधानसभा में वित्त मंत्री ने पेश किया बजट, कहा- प्रदेश में गरीबी समाप्त करना हमारी पहली प्राथमिकता।

सदन में सभी ने कल आतंकी हमले में मारे गए लोगों को दो मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि दी।

सीएम योगी ने कल हुए अमरनाथ हमले की निंदा की। अमरनाथ हमले के बाद सीएम कंवड यात्रा को देखते हुए प्रदेश हाई अलर्ट जारी किया।

11 बजे कार्यवाही शुरू होते ही विपक्ष ने कानून व्यवस्था पर जोरदार हंगामा किया, जिसके बाद सदन को कुछ देर के लिए स्थगित करना पड़ा।

 

loading...