योगी सरकार शराब माफियाओं के खिलाफ कर रही है कड़ी कार्रवाई

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार ने विधान परिषद में कहा कि वह शराब माफियाओं के खिलाफ कड़ी कार्रवाई कर रही है और अब तक 3392 लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजने का काम किया है।

शून्य प्रहर में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के सुनील कुमार चितौड़, दिनेश चन्द्रा, डा. विजय प्रताप एवं अन्य सदस्यों ने गत 7 जुलाई को आजमगढ़ जिले में जहरीली शराब पीने से हुई मौतों के संबंध कार्यस्थन सूचना दी।

सूचना की ग्राहय्ता पर सुनील कुमार चितौड़, डा. विजय प्रताप, अतर सिंह ने विचार व्यक्त किए। बसपा सदस्यों ने कहा कि आजमगढ़ की घटना में छोटे कर्मचारियों को निलंबित कर दिया जबकि किसी भी बड़े अधिकारी की गिरफ्तारी नहीं हुई। चित्तौड़ ने कहा कि इस घटना के लिए तैनिकता के आधार पर आबकारी मंत्री को इस्तीफा दे देना चाहिए।

उन्होंने कहा कि गरीब लोगों को जहरीली शराब पिलाकर मारा जा रहा है। मात्र 2 लाख रुपया मृतक के परिजनों को आर्थिक सहायता देने से उनकी भरपाई नहीं की जा सकती।

सरकार इस घटना के लिए जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ भी मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किया जाए। बसपा सदस्य ने कहा कि शामली जिले के ऊन क्षेत्र के टोडा गांव में अब तक शराब पीने से 52 महिलाएं विधावा हो चुकी हैं। इस सूचना पर सदन का काम रोककर चर्चा कराने की मांग की।

loading...