अमेरिका ने पाक को माना आतंकवाद का ‘पनाहगार’, इस सूची में किया शामिल

वाशिंगटन। अमेरिका ने आज एक बड़ा कदम उठाते हुए पाकिस्तान को उन देशों की सूची में शामिल कर लिया है जो आतंकवादियों को ‘सुरक्षित पनाहगाह’ उपलब्ध कराता है।

अमेरिकी विदेश विभाग ने कहा कि लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्मद की गतिविधियां पाकिस्तान के भीतर जारी है। अमेरिका ने अपनी वार्षिक रिपोर्ट कंट्री रिपोर्ट ऑन टेररिज्म में दावा किया है कि पाकिस्तान आतंकवादियों के लिए सुरक्षित जगह है।

रिपोर्ट में दावा किया है पाकिस्तान अपनी धरती पर न सिर्फ आतंकवादियों को पनाह देता है, बल्कि वहां आतंकवादियों को प्रशिक्षण दिया जाता है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान सरकार अफगान तालिबान और हक्कानी जैसे आतंकवादी समूहों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं करता है। इसके अलावा पाकिस्तान ने लश्कर-ए तैयबा और जैश-ए मोहम्मद जैसे आतंकवादी समूहों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की है।

ये संगठन पाकिस्तान में लगातार आतंकियों को प्रशिक्षण दे रहे हैं। रिपोर्ट में कहा गया हैं कि संयुक्त राष्ट्र ने लश्कर प्रमुख हाफिज सईद को आतंकवादी घोषित किया था लेकिन इसके बावजूद वह पाकिस्तान की धरती पर सार्वजनिक रूप से रैलियां कर रहा है। रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत आतंकवाद से पीड़ित है और पाकिस्तान के आतंकवादी संगठन भारत में लगातार हमले करते रहे हैं।

 

loading...