PM मोदी और इजरायली प्रधानमंत्री की यह जरूरी वार्ता लीक

नई दिल्ली। भारत और चीन के साथ मजबूत संबंधों का हवाला देते हुए इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने यूरोपीय संघ पर खूब हमले किए। उन्होंने कहा कि यूरोपीय संघ का उनके देश के प्रति रवैया सनक भरा और खुद को नुकसान पहुंचाने वाला है।

नेतन्याहू की बुधवार को बंद कमरे में हुई 4 यूरोपीय नेताओं के साथ एक बैठक में हुई यह बातचीत दुर्घटनावश बाहर आ गई और फिर पास के कमरे में बैठे पत्रकारों को ओपन माइक की वजह से सारी जानकारी मिल गई। जैसे ही इस बात की जानकारी लगी इस फीड को तुरंत काट दिया गया।

नेतन्‍याहू ने भारत और चीन के साथ बढ़ती तकनीकी सहयोग पर बात की। उन्‍होंने कहा कि चीन के राष्‍ट्रपति ने इजरायल को अविष्‍कार का महारथी करार दिया है। उन्‍होंने कहा कि चीन के साथ इजरायल का रिश्‍ता काफी खास और इजरायल राजनीतिक मुद्दों के बारे में परवाह नहीं करता है।

ओबामा को लेकर की बातचीत
इसके बाद इजरायली पीएम ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हालिया इजरायल दौरे के बारे में भी बताया। उन्‍होंने कहा कि भारतीय नेता ने उनसे भारत के हितों का ध्‍यान रखने की बात कही। पीएम मोदी ने उनसे कहा कि मुझे और ज्‍यादा पानी, साफ पानी की जरूरत है।

मुझे यह कहां से मिलेगा? नेतन्‍याहू ने पूर्व अमेरिकी राष्‍ट्रपति बराक ओबामा के साथ अपने मतभेदों के बारे में भी बात की। उन्‍होंने कहा कि अमेरिकी नीति को लेकर बड़ी समस्‍या थी लेकिन अब काफी अंतर है। अब ईरान के खिलाफ मजबूत रवैया है और हमारे क्षेत्र अमेरिका की मौजूदगी बदली है। यह काफी सकारात्‍मक है।

 

loading...