राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद ने CM योगी से की मुलाकात

लखनऊ। राष्ट्रपति पद के लिए राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद ने आज अपने गृह राज्य उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से अपने प्रचार अभियान का आगाज किया।

राज्यपाल रामनाईक,मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और संसदीय कार्य मंत्री सुरेश खन्ना समेत मंत्रिमंडल के कई सदस्यों और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कार्यकर्त्ताओं ने अमौसी हवाई अड्डे पर कोविंद की आगवानी की।

राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के साथ भूतल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी और भाजपा महासचिव भूपेन्द्र यादव के अलावा जल संसाधन मंत्री उमा भारती भी पहुंची। हवाई अड्डे से कोविंद का काफिला शाम करीब सवा 5 बजे मुख्यमंत्री के सरकारी आवास पांच कालीदास मार्ग पहुंचा जहां राष्ट्रपति के उम्मीदवार ने भाजपा और उसके सहयोगी दलों के विधायकों, राज्यसभा सांसद और लोकसभा सांसदों से मेल मुलाकात अपने पक्ष में वोट देने की अपील की।

इस मौके पर भाजपा के प्रदेश महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल समेत अन्य पदाधिकारी मौजूद थे। करीब एक घंटे के प्रवास के दौरान कोविंद राजग के सांसदों विधायकों के अलावा विपक्षी दलों से मुलाकात कर वोट मांग सकते हैं। शाम करीब साढे 6 बजे कोविंद नई दिल्ली वापस लौट जाएंगे। प्रचार अभियान के अगले दौर में वह कल उत्तराखंड की राजधानी देहरादून जाएंगे।

गौरतलब है कि कोविंद का जन्म कानपुर देहात में भोगनीपुर क्षेत्र के परौंख गांव में हुआ था। राष्ट्रपति का चुनाव आगामी 17 जुलाई को होगा। मतगणना 20 जुलाई को हो जाएगी। सर्वाधिक आबादी वाला राज्य होने की वजह से उत्तर प्रदेश के प्रत्येक मतों का महत्व भी सबसे अधिक है। एक मत का महत्व 208 है।

राज्य में चयनित 403 विधायक हैं, इस तरह उत्तर प्रदेश से सर्वाधिक वोट 83,824 है। इसमें लोकसभा, राज्यसभा तथा विधानसभा के सदस्य मतदाता होते हैं। मतदाताओं को अपनी पसन्द के उम्मीदवारों का क्रमवार जिक्र करना होता है। मतपत्रों पर उम्मीदवार का नाम अंकित होता है। अपनी पसन्द के उम्मीदवार के नाम के आगे टिक लगाना होता है।

राष्ट्रपति पद के लिए राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन(राजग) के राम नाथ कोविंद और संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) की मीरा कुमार चुनाव मैदान में हैं। इस चुनाव में पार्टियां मतदाताओं के लिए व्हिप जारी नहीं कर सकतीं। संविधान के अनुसार चुनाव में राजनीतिक दल के लोग ही मतदाता होते हैं लेकिन चुनाव राजनीति से ऊपर माना जाता है।

पहली बार, राष्ट्रपति चुनाव के लिए विशेष स्याही वाला एक पेन भी दिल्ली से लखनऊ भेजा जा रहा है। इस विशेष कलम से वोटर अपने उम्मीदवार को वोट देंगे। रामनाथ कोविंद के 14वें राष्ट्रपति बनने के लिए सभी आंकड़े उनके पक्ष में है हालांकि विपक्ष की उम्मीदवार के तौर पर मीरा कुमार चुनाव मैदान में है।

loading...