वॉलनट्स खाने वालों में कम पाई जाती है टाईप 2 डायबिटीज

लखनऊ : नए अध्ययन में सामने आया है कि जो लोग वॉलनट्स खाते हैं, उनमें वॉलनट्स न खाने वाले व्यस्कों1 के मुकाबले टाईप 2 डायबिटीज़ होने की संभावना लगभग आधी होती है। कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी, लॉस एन्जेल्स (यूसीएलए) में किए गए एक अध्ययन के अनुसार वॉलनट्स खाने वाले लोगों द्वारा औसतन 1.5 चम्मच वॉलनट्स खाई गईं। वॉलनट की मात्रा बढ़ाकर दोगुनी यानि 3 चम्मच प्रतिदिन करने से टाईप 2 डायबिटीज़ की संभावना 47 प्रतिशत कम हो गई। ली गई वॉलनट्स की मात्रा वॉलनट्स की अनुमोदित मात्रा यानि 4 चम्मच या 28 ग्राम के बहुत नज़दीक थी।

शोधकर्ताओं ने नेशनल हेल्थ एण्ड न्यूट्रिशन एग्ज़ामिनेशन सर्वे (एनएचएएनईएस) से मिले डेटा का अध्ययन किया, जिसमें अमेरिकी जनसंख्या की विस्तृत सैंपलिंग से निष्कर्ष प्राप्त किए गए। अध्ययन में 18 से 85 साल की उम्र वाले 34,121 व्यस्कों से उनके आहार के बारे में पूछा गया तथा यह जानकारी प्राप्त की गई कि क्या उन्हें डायबिटीज़ है और क्या वो डायबिटीज़ के लिए दवाईयां ले रहे हैं। लैबोरेटरी की सामान्य जांचों जैसे फास्टिंग प्लाज़्मा ग्लूकोज़ एवं हीमोग्लोबिन ए1सी के द्वारा लोगों में डायबिटीज़ की जांच भी की गई।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *