पिंक हाफ मैराथन 7 अक्टूबर को, राजधानी पहुंचने लगे देश के कई दिग्गज एथलीट

लखनऊ। राजधानी में 7 अक्तूबर को आयोजित होने वाली पिंक हाफ मैराथन में देश के कई दिग्गज एथलीट हिस्सा लेने के लिए राजधानी पहुंच रहे हैं। लखनऊ की सबसे ज्यादा इनाम वाली इस मैराथन में हाल ही में भुबनेश्वर में हुई राष्ट्रीय ओपेन एथलेटिक्स चैंपियनशिप में नए कीर्तिमान के साथ स्टीपलचेज का स्वर्ण पदक जीतने वाले महाराष्ट्र के अविनाश साबले, कांस्य पदक विजेता बुद्धा, लम्बी दूरी की दौड़ में राष्ट्रीय कैम्प में जगह बनाने वाली राजस्थान की मीनू, एशियन एथलेटिक्स चैंपियनशिप में हिस्सा लेने वाली पारुल चौधरी, अंतरराष्ट्रीय धावक रती राम सैनी समेत कई उम्दा एथलीट हिस्सा ले रहे हैं।

आयोजन सचिव केजीएमयू के प्रो. आनंद मिश्रा ने बताया कि राजधानी में पहली दफा इतनी इनामी राशि की मैराथन हो रही है। महिला व पुरुष वर्ग में यह 21-21 किलोमीटर की होगी। इसमें प्रथम स्थान पर आने वाले महिला व पुरुष एथलीटों को एक-एक लाख रुपए का पुरस्कार दिया जाएगा। दूसरे स्थान पर रहने वाले को 50-50 हजार व तीसरे स्थान पर 25-25 हजार रुपए का पुरस्कार दिया जाएगा। इसके अलावा महिलाओं की छह किलोमीटर और पुरुषों की 10 किलोमीटर की क्रासकंट्री भी होगी। इसमें विजेता को 25 हजार, दूसरे स्थान पर 15 हजार और तीसरे स्थान पर 10 हजार रुपए का पुरस्कार दिया जाएगा। इसके अलावा लोगों की ज्यादा से ज्यादा भागीदारी हो इसके लिए दो किलोमीटर की वाकाथॉन होगी। इसमें किसी भी आयु के महिला व पुरुष तथा बालक व बालिका हिस्सा ले सकते हैं। इन्हें लॉटरी सिस्टम से पुरस्कार व उपहार दिए जाएंगे।

डेढ़ सौ से ज्यादा ऑफीशियल व वालेंटियर तैनात रहेंगे
जिला एथलेटिक्स संघ के सचिव बीआर वरुण ने बताया कि दौड़ कराने के लिए सभी क्वालीफाइड टेक्निकल ऑफीशियलों की नियुक्ति की गई है। इसके अलावा सौ से ज्यादा वालेंटियर नियुक्त किए गए हैं। दौड़ 1090 चौराहे से शुरू होगी। यह ताज होटल के सामने, सहारा शहर, फ्लाईओवर, जनेश्वर मिश्र पार्क, लक्ष्मी मार्केट, गोमतीनगर एक्सटेंशन, ग्वारी पुल, दयाल पैराडाइज चौराहा, सीएमएस चौराहा, बैडमिंटन अकादमी, लोहिया पार्क होते हुए 1090 चौराहे पर समाप्त होगी। क्रासकंट्री दौड़ इसी मार्ग से जाएगीऔर जनेश्वर मिश्र पार्क चौराहे से वापस मुड़कर 1090 चौराहे पर खत्म होगी। वाकाथान मेट्रो चौराहे से वापस होकर होकर 1090 चौराहे पर खत्म होगी।

विदेशी भी दौड़ना चाहते थे
इस दौड़ में हिस्सा लेने के लिए कीनिया, इथोपिया के एथलीटों ने भी अपने नाम भेजे थे। पर, हम अभी इसे अंतरराष्ट्रीय दर्जा देने के लिए तैयार नहीं है। कीनिया के एक एथलीट तो यहां पहुंच भी गए थे।

दौड़ एक नजर :
हाफ मैराथन महिला व पुरुष वर्ग : 21 किलोमीटर
क्रासकंट्री दौड़ पुरुष वर्ग : 10 किलोमीटर
क्रासकंट्री दौड़ महिला वर्ग : 06 किलोमीटर
वाकाथॉन : 02 किलोमीटर
– अभी तक दो हजार से ज्यादा लोगों की इंट्री आ चुकी है।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *