‘जय श्रीराम’ बोलने पर नीतीश के मंत्री के खिलाफ फतवा जारी

नई दिल्ली। नीतीश सरकार की कैबिनेट में एक मात्र मुस्लिम मंत्री खुर्शीद अहमद उर्फ फिरोज के खिलाफ फतवा जारी किया गया। बिहार के नवगठित एनडीए सरकार की विश्‍वास मत के दिन विधानसभा परिसर में ‘जय श्रीराम’ का नारा लगाने पर अहमद को इमारत-ए-शरिया के मुफ्ती सुहैल अहमद कासमी ने इस्‍लाम से बेदखल करने का फतवा जारी किया है।

मंत्री का निकाह भी रद्द कर दिया गया है। फतवा जारी होने के बाद फिरोज ने कहा कि मैं इमारत शरिया का सम्मान करता हूं। उन्हें फतवा जारी करने से पहले मेरा इरादा पूछना चाहिए था। हम सभी इंसान हैं और इस्लाम का कहना है कि किसी से नफरत नहीं करो।

100 बार बोलूंगा ‘जय श्रीराम’
उन्होंने कहा कि बिहार के विकास और समरसता के लिए मैं ‘जय श्रीराम’ कहूंगा। मैं अपने इस कथन से कभी भी कदम पीछे नहीं हटाऊंगा। बिहार के लिए मैं 100 बार ‘जय श्रीराम’ बोलूंगा। खुर्शीद पश्चिम चंपारण जिले के सिकटा सीट से जदयू के विधायक हैं। नीतीश मंत्रिमंडल में खुर्शीद को अल्पसंख्यक कल्याण और गन्ना उद्योग विभाग सौंपा गया है। गौरतलब है कि नीतीश कुमार के महागठबंधन से अलग होने पर आरजेडी नेता और बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा तंज कसते हुए कहा था कि नीतीश कुमार हे राम से जय श्रीराम बोलने लगे हैं।

loading...