GB Boxing : छह भारतीय मुक्केबाजों के पदक पक्के

नई दिल्ली : फिनलैंड के हेलसिंकी में चल रहे जीबी बॉक्सिंग टूर्नामेंट एशियाई चैम्पियनशिप में छह भारतीय मुक्केबाजों ने भारत के लिए पदक पक्के कर दिए हैं। तीन बार पदक जीत चुके शिव थापा(60 किग्रा), सचिन सिवाच(52 किग्रा), गोल्डकोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स में कांस्य पदक जीतने वाले मोहम्मद हुसामुद्दीन और कविंदर सिंह बिष्ट (56 किग्रा), दिनेश डागर(69 किग्रा) और नवीन कुमार(+91 किग्रा वर्ग) ने सेमीफाइनल में जगह बनाई। साथ ही इन खिलाड़ियों को पदक मिलना तय हो गया है। मुक्केबाजी में सेमीफाइनल में हारने वाले खिलाड़ियों को कांस्य पदक दिया जाता है।

विश्व चैम्पियनशिप में कांस्य पदक जीत चुके शिव ने 60 किग्रा भार वर्ग के क्वार्टर फाइनल में पोलैंड के डोमिनिक पलक को 5-0 से हराया। पहले दौर में शिव को बाई मिला था। अब सेमीफाइनल में उनका मुकाबला रूस के मिखाइल वार्लमोव से होगा। 52 किग्रा वर्ग में सचिन ने रूस के तामिर गालनोव के खिलाफ 4-1 से जीत हासिल की। 20 साल के इस भारतीय मुक्केबाज को अब सेमीफाइनल में किर्गिस्तान के अजात यूसेनालीव के खिलाफ रिंग में उतरना होगा। वहीं, हुसामुद्दीन ने रूस के ओविक ओगानिसिअन को 5-0 से हराया। अब सेमीफाइनल में उनका मुकाबला कजाकिस्तान के जहानबोलत किर्दिबायेव से होगा।

कविंदर सिंह ने किर्गिस्तान के अलमानबट अलीबेकोव को 5-0 से हराया। कविंदर पहली बार पदक दौर में पहुंचे हैं। उनका अगला मुकाबला फ्रांस के जॉर्डन रोड्रिग्ज से होगा। जबकि दिनेश डागर ने क्वार्टर फाइनल में स्थानीय खिलाड़ी अयादीन बेहर्ज को 3-2 से हराया। अब सेमीफाइनल में उनकी भिड़ंत रूस के सर्गेई सोबीलिनसिकी से होगा। +91 किग्रा में नवीन ने भी स्थानीय खिलाड़ी अंट्टी लेहमुसविरपी को मात दी। अब सेमीफाइनल में वे ऑस्ट्रेलिया के जस्टिस हुनी के सामने होंगे। उल्लेखनीय है कि इससे पहले सुमित सांगवान(91 किग्रा) और गोविंद सहानी(49 किग्रा) पहले ही सेमीफाइनल में जगह बना चुके हैं।

loading...