कांग्रेस ने किया पलटवार, सांसद निधि घोटाले के लिए स्मृति ईरानी को मंत्री पद से हटाएं

नई दिल्ली : कांग्रेस ने केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी पर गुजरात में विकास कार्य के लिए सांसद निधि के इस्तेमाल में घोटाला किया है। पार्टी का कहना है कि नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक(कैग) की रिपोर्ट के अनुसार ईरानी ने बिना टेंडर जारी कराए अपने करीबी एनजीओ को 6 करोड़ रुपया दिलाया है। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने पार्टी मुख्यालय में पत्रकार वार्ता कर कहा कि स्मृति ईरानी ने वितीय घोटाला कर जनधन का दुरुपयोग किया। उन्होंने कहा कि समय आ गया जब उनके खिलाफ भ्रष्टाचार निरोधी धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज कर जांच हो।

सुरजेवाला के साथ संयुक्त पत्रकार वार्ता कर रहे गुजरात से पार्टी नेता शक्ति सिंह गोहिल ने कहा कि गुजरात के आनंद जिले के लिए स्मृति ईरानी ने अपनी सांसद निधि का उपयोग करना तय किया था। निधि के उपयोग की नियम-शर्तों के मुताबिक किसी भी ठेकेदार को सांसद निधि से 50 लाख से ज्यादा का ठेका नहीं दिया जा सकता है। इसके अलावा उसे लागू कराने वाली एजेंसी हमेशा सरकार ही रहती है। स्मृति ईरानी ने अपने कुछ लोगों द्वारा तैयार एक एनजीओ को यह ठेका दिया और उन्हें सांसद निधि के उपयोग की इम्पलीमेंटिंग एजेंसी भी बना दिया।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *