इस कम्पनी के मालिक का पासपोर्ट जब्‍त, करोड़ों का लिया है कर्जा

नई दिल्ली। एस कुमार्स के मालिक नितिन कासलीवाल भी देश छोड़कर न भाग जाएं, इससे पहले ही कोर्ट ने उनका पासपोर्ट जब्‍त कर लिया हैैै। कर्नाटक हाई कोर्ट ने कासलीवाल की अर्जी खरीज कर दी, जिसमें उन्होंने पासपोर्ट जारी करने का आग्रह किया था।

गौरतलब है कि नितिन ने देश के कई बड़े बैंकों से करीब 6,500 करोड़ का लोन ले रखा है। उनको कर्ज देने वाले बैंकों का कहना है कि अगर उन्हें भारत से बाहर जाने की इजाजत दी गई तो वह भी विजय माल्या की तरह फरार हो सकते हैं।

IDBI ने घोषित किया विलफुल डिफॉल्टर
कासलीवाल को आई.डी.बी.आई. बैंक ने विलफुल डिफॉल्टर घोषित किया है। वह भारत के पहले ऐसे बिजनसमैन हैं जिनकी फोटो यूको बैंक ने नेम एंड शेम के तहत लोन डिफॉल्टर्स की सूची में प्रकाशित की थी।

21 दिसंबर 2016 को बेंगलुरु में ऋण वसूली प्राधिकरण ने एक आदेश जारी किया, जिसमें नितिन के पासपोर्ट को सीज कर दिया गया था। कासलीवाल पर आई.डी.बी.आई. बैंक, पंजाब नैशनल बैंक, यूनियन बैंक, सेन्ट्रल बैंक, जम्मू-कश्मीर बैंक और इंडियन बैंक, यूको बैंक का कर्ज है।

 

loading...