बाराबंकी : 2977 आगनबाड़ी केंद्रों पर मनायी गई गोदभराई की रस्म

बाराबंकी । बाल विकास कार्यक्रम के अंतर्गत स्थानीय जनपद के सभी आंगनबाड़ी केंद्रों पर गोद भराई कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में बाल विकास परियोजना अधिकारियों, आशा आंगनबाड़ी व गर्भवती व धात्री महिलाओं के साथ गांव की अन्य महिलाओं ने हिस्सा लिया।  कार्यक्रम के दौरान मंगलगीत के साथ प्रथम समेस्टर के गर्भवती महिलाओं को पौष्टिक आहार भेट कर गोद भराई की रस्म अदा की गई। साथ ही गर्भवती महिलाओं का राजिस्ट्रेशन कर विभिन्न जानकारियां दी गई। यह जानकारी  जिला कार्याक्रम अधिकारी प्रकाश कुमार चौरसिया ने दी।

डीपीओ श्री चौरसिया ने बताया कि जनपद के 2977 आंगनबाड़ी केंद्रों पर गोदभराई दिवस कार्यक्रम के रूप में मनाया गया। कार्यक्रम के दौरान प्रथम समेस्ट यानि तीसरे माह की गर्भवती महिलाओं को पौष्टिक आहार भेट कर गोद भराई की रस्म मनायी गई। साथ ही गर्भवती महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान समय से जांच कराने, आयोडीन युक्त नमक का प्रयोग करने, आयरन की गोली का नियमित प्रयोग करने, प्रसव के एक घंटे के अन्दर पीला गाढ़ा दूध नवजात को पिलाय जाने, प्रसव सिर्फ संस्थागत कराने की सलाह दी गई। इसके साथ ही चतुरंगी आहार में लाल, हरा, पीला, सफेद चार तरीके के भोजन करने की सलाह दी गई।

उन्होंने बताया कि आंगनबाड़ी केन्द्रों पर जन सहयोग से ममता दिवस का आयोजन किया गया, केन्द्रों पर महिलाओं  को पोषण एवं  स्वास्थ संबंधी जानकारी देकर जागरूक किया गया । कार्यक्रम के दौरान  गर्भवती महिलाओं की  कई केन्द्रों पर गोद भरी गई। वहीं आंगनबाड़ी केन्द्रों पर आयी  सभी महिलाओं में पोषाहार वितरण किया गया।

उन्होंने आगे बताया कि कार्यक्रम में शामिल सभी महिलाओं को यह जानकारी दी गई कि भोजन दिन में तीन बार और डेढ़ गुना ज्यादा खाए। खाने में पौष्टिक भोजन जैसे अनाज, दूध, फल, दाले, हरी साग – सब्जी, घी व अन्य चीजें भी खाएं, दिन में  प्राप्त घंटे की नींद ले, कोई भी भारी वस्तु न उठायें।

loading...