Barabanki : टीबी रोगी खोजी अभियान में मिले अब तक 28 पॉजिटिव रोगी

बाराबंकी (13 जून 2019)।  क्षय रोग पर नियंत्रण करने के उददेश्य से स्थानीय जनपद में टीबी रोगी खोजी अभियान गतिमान है । यह अभियान 10 से 22 जून तक चलेगा। इस अभियान को सफल बनाने के लिए जिले में कुल 134 टीम बनायीं गयी हैं । जिसके निगरानी  के लिए 31 सुपरवाईजरों को लगाया गया है ।  टीमें घर-घर जाकर संदिग्ध टीबी मरीजों की खोज कर रहीं हैं । अब तक अभियान के दौरान कुल 28 क्षय रोगी खोज में पाये गये, उनका इलाज शुरू कर दिया गया है । यह जानकारी जिला क्षय रोग अधिकारी डा० एके सिंह ने दी ।

जिला क्षय रोग अधिकारी ने आगे बताया कि इस क्रम में उक्त अभियान के तहत 1लाख 12 हजार  लोगों की स्क्रीनिंग की गयी । जिसमें 700 संभावित लक्षणों वाले लोगों का बलगम जांच की गई। जिसमें अब तक 24 बलगम के पॉजिटिव रोगी व 4  एक्सरे पॉजिटिव मरीज समेंत कुल 28 लोगों में रोग के लक्षण पाये गये । इन लोगों को इलाज शुरू कर दिया गया है ।

उन्होंने बताया कि जनपद में सोमवार से सक्रिय क्षय रोग खोज अभियान की शुरुआत की गयी है। इस अभियान में  इस बार कुल 3.60 लाख आबादी को लक्षित किया गया है जो भी संदिग्ध मरीज मिलेगा, टीम उसका मौके पर ही नमूना लेगी। इसके बाद दूसरी सुबह खाली पेट उस  मरीज के बलगम का दूसरा नमूना लिया जाएगा, जिसकी जांच जिला टीबी यूनिट में की जाएगी। टीबी रोग की पुष्टि होने के बाद मरीजों का नि:शुल्क उपचार शुरू होगा। इसी के साथ जो भी प्राइवेट चिकित्सक, आशा, एएनएम किसी टीबी के संदिग्ध मरीज को रेफर करता है तो उनको प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। इसके साथ ही उन्हें पौष्टिक आहार के लिए प्रतिमाह 500 रुपये भी रहे हैं ।

       डा सिंह ने बताया कि टीबी के लक्षण के बारे में बताते हुए कहा कि दो सप्ताह या उससे अधिक समय से लगातार खाँसी का आना, खाँसी के साथ बलगम का आना, बुखार आना (विशेष रूप से शाम को बढ़ने वाला), वजन का घटना, भूख कम लगना, सीने में दर्द, सोते समय पसीने आना, बलगम के साथ खून आना आदि इसके मुख्य लक्षण हैं। उन्होंने सभी लोगों से सहयोग की  अपील की है कि वह भ्रमण कर रही टीम द्वारा घर के सभी सदस्यों की स्क्रीनिंग कराये जिससे टीबी के मरीजों में निरंतर कमी लायी जा सके।

loading...