बाराबंकी : ममता दिवस पर बांटी गई आयरन की गोली और पोषाहार

बाराबंकी (15/06/2019)। बाल विकास विभाग द्वारा जनपद के सभी आंगनबाड़ी केंद्रों पर ममता दिवस का आयोजन किया गया। । कार्यक्रम के दौरान गर्भवती, धात्री माताओं को उनके शिशुओं हेतु पोषण एवं स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी देकर जागरूक किया गया। साथ ही किशोरियों में आयरन की गोली बांटी गई तथा सभी केन्द्रों पर  पोषाहार का वितरण किया गया।

जिला कार्यक्रम अधिकारी प्रकाश कुमार चौरसिया ने बताया कि जिले के सभी आंगनबाड़ी केंद्रों पर ममता दिवस कार्यक्रम के रूप में मनाया गया। कार्यक्रम के दौरान गर्भवती महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान समय से जांच कराने, आयोडीन युक्त नमक का प्रयोग करने, आयरन की गोली का नियमित प्रयोग करने, प्रसव के एक घंटे के अन्दर पीला गाढ़ा दूध नवजात को पिलाय जाने, प्रसव सिर्फ संस्थागत कराने की सलाह दी गई। इसके साथ ही चतुरंगी आहार में लाल, हरा्, पीला, सफेद चार तरीके के भोजन करने की सलाह दी गई। उन्होंने बताया कि  आंगनबाड़ी केन्द्रों पर जन सहयोग से ममता दिवस का आयोजन किया गया, साथ ही वहीं विभिन्न केन्द्रों पर 8, 15, 22, 23 वर्ष की किशोरियों को नीबू पानी की साथ आयरन की गोली खिलायी गई। कार्यक्रम के दौरान  गर्भवती महिलाओं की  कई केन्द्रों पर गोद भरी गई।इसके साथ ही आंगनबाड़ी केन्द्रों पर आयी  सभी महिलाओं में पोषाहार वितरण किया गया।

बताया कि जिन महिलाओं के बच्चें छह माह के हो गये है  उन बच्चों को आज से  मां के दूध के अतिरिक्त ऊपर की खुराक  देने की शुरूआत की गई है, इस खुराक में केला, दाल का पानी, चावल का पानी, और बच्चे के शरीर को ताकत देने वाली खाने की चीजे शामिल है, धात्री माताओं को बच्चे के छह माह बाद अर्ध ठोस ऊपरी आहार  देने के साथ- साथ मां का दूध भी जारी रखने की सलाह दी गई। उन्होंने  कहा जब तक बच्चा दूध पिए स्तनपान  जारी रखना चाहिए, इस दौरान स्वच्छता का विशेष ध्यान रखें। दूध पिलाने से पूर्व हाथ को अवश्य धोए और बच्चे को ऊपरी आहार देने से पहले भी बच्चें के हाथ धुलवाए।

loading...