CMO ने जिला स्तरीय 24 प्रशिक्षकों को दिया TOT प्रमाण पत्र

बाराबंकी  । राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत होम बेस्ड केयर यंग चाइल्ड( एचबीवाईसी) के पांच दिवसीय कार्यक्रम में प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले जनपद स्तरीय 24 प्रशिक्षकों को (टीओटी) प्रमाणपत्र मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा रमेश चंद्रा द्वारा आरसीएच सभागार में वितरित किया गया । इस दौरान सीएमओ ने एचबीवाईसी कार्यक्रम के तहत प्रशिक्षण प्राप्त कर चुके प्रशिक्षकों को प्रमाण पत्र देकर कार्यक्रम को सफल बनाने की अपील की । इस कार्यक्रम के तहत जल्द आशा कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण दिया जाएगा।

कार्यक्रम के दौरान सीएमओ डा चन्द्र ने बताया कि होम बेस्ड केयर यंग चाइल्ड कार्यक्रम के तहत मातृ शिशु मृत्यु दर में कमी लाने के लिए आशा कार्यकर्ताओं को 42 दिन के बजाय 15 माह तक गृह भ्रमण करना होगा। बच्चों को कुपोषण मुक्त करने के साथ-साथ सर्वांगीण विकास पर जोर देना होगा। बताया कि यह प्रशिक्षक विभिन्न ब्लाकों में तैनात चिकित्साधिकारियों, स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारियों व बीसीपीएम को प्रशिक्षण देंगे। प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद यह लोग ब्लॉकवार आशा कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण देकर दक्ष बनाएंगे, ताकि कार्यक्रम को पूर्ण रूप से सफल बनाया जा सके।

जिला सामुदायिक प्रोसेस मैनेजर सुरेन्द्र कुमार ने बताया कि एचबीवाईसी कार्यक्रम के तहत आशा कार्यकर्ताओं को अपने पास डिजिटल घड़ी, डिजिटल थर्मामीटर, बच्चे का वजन करने वाली मशीन, कंबल, टार्च, कटोरी, साबुन आदि अनिवार्य रूप से रखने पर जोर दिया जा रहा है।

इस दौरान मण्डल स्तरीय एचबीवाईसी मॉनिटर जय  सिंह, व स्टेट ट्रेनरों में डा प्रणव श्रीवास्तव, स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी अजय कुमार, हेमा मौर्या, रीता वर्मा आदि ने अपनी बात रखी।

कार्यक्रम में प्रशिक्षण प्राप्त करने वालों में निमेष चंद्रा, डा राजऋीष त्रिपाठी, डा फरख अली, डा जगदीश, डा मोहम्द हसीब, सुनीता, संगिता वर्मा, बीएन मिश्रा, सुधा,  रामराज, अभिषक, मानवेन्द्र वर्मा, विशाल सिंह्र, ओपी यादव, श्याम लाल, बृजप्रकाश तिवारी, आरके चौधरी, आशाराम, अभयकुमार, लल्लूराम, रासिया बानो, जियालाल समेंत आदि मौजूद रहें।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *