BARABANKI : लक्ष्य हासिल कर खोज निकाले 61 नये टीबी मरीज

बाराबंकी। स्थानीय जनपद में क्षय रोग पर नियंत्रण करने के उददेश्य से 10 दिवसीय सक्रिय टीबी रोगी खोजी अभियान में 3.70 लाख की आबादी के बीच पहुंची स्वास्थ्य विभाग की टीमों ने 1,870  संदिग्ध मरीजों के बलगम के नमूने लिए। जिनकी जांचें में 61 रोगियों के टीबी रोग होने की पुष्टि हुई है। इनका उपचार भी शुरू करा दिया गया है। इन मरीजों को पौष्टिक आहार के लिए प्रतिमाह 500 रुपए भी दिया जाएगा। यह जानकारी जिला छय रोग अधिकारी व अभियान के नोडल डा० एके सिंह ने दी।

जिला क्षय रोग अधिकारी ने बताया इस बार अभियान को सफल बनाने के लिए जिले में कुल 137 टीम बनायीं गयी हैं । जिसके निगरानी  के लिए 31 सुपरवाईजरों को लगाया गया है । टीमें घर-घर जाकर टीबी मरीजों की खोज करेगी। जिले में सघन टीबी रोगी खोजी अभियान के तहत  3 लाख 83 हजार 407 लोगों की स्क्रीनिंग की गयी । इस दौरान जांच के बाद 1,870 सम्भावित लोग मिलें। मौके पर 58 बलगम एवं 3 एक्सरे  समेंत कुल 61 के पॉजिटिव रोगी पाये गये । इन लोगों को इलाज शुरू कर दिया गया है ।

नोडल अधिकारी ने बताया जनपद के विकास खण्ड रामनगर में 10, नवाबगंज 1, हैदरगढ़ 9, आरएसघाट 3, टिकैतनगर4, फतेहपुर 1, मसौली 4, जैदपुर 6, सूरतगंज 8,  बंकी 2, दरियाबाद 2, देवा 2, निन्दूरा 1, सिद्धौर 2, सिरौलीगौसपुर 1, त्रिवेदीगंज 2 टीबी के पॉजटिव रोगी मिले है। इस प्रकार अभियान में 58 लोगों में बलगम जांच और 3 एक्सरे के माध्यम से टीबी रोग की पुष्टि हुई। इसके साथ ही कुल 61 टीबी मरीजों में रोग के लक्षण पाये गये हैं ।

जिला क्षय रोग अधिकारी के मुताबिक टीबी के प्रत्येक मरीज को 500 रुपये प्रतिमाह पौष्टिक आहार के लिए दिए जा रहे हैं। यह राशि संबंधित मरीज के बैंक एकाउंट में भेजी जा रही है। टीबी के नए मरीजों का बैंक में खाता खुलवाने के बाद उसी में यह स्थानांतरित की जाती है। उन्होंने बताया कि सरकारी अस्पतालों में टीबी की अच्छी क्लाविटी की दवाएं मिल रही हैं। टीबी रोगियों को सरकारी अस्पतालों में उपचार कराने व दवा लेने की सलाह दी है।

loading...