कोहली का ‘विराट’ शतक, भारत की मजबूत पकड़

बांग्लादेश के खिलाफ दूसरे टेस्ट का दूसरा दिन

कोलकाता : ईडन गॉर्डन पर पहले डे नाइट टेस्ट में बांग्लादेश को पहली पारी में 106 रनों ढेर करने के बाद भारतीय बल्लेबाजों ने शनिवार को दूसरे टेस्ट के दूसरे दिन भारत ने शानदार खेल का प्रदर्शन करते हुए नौ विकेट पर 347 रन बनाकर अपनी पहली पारी घोषित, इसके साथ ही भारत के पास कुल 241 रन की भारी-भरकम बढ़त हासिल कर ली है। भारत की तरफ से विराट कोहली ने शानदार शतक जड़ते हुए 136 रन की पारी खेली है। विराट कोहली ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए 27वां टेस्ट शतक ठोंक बांग्लादेश के गेंदबाजों के होश उड़ा दिये हैं। भारत ने कल के स्कोर तीन विकेट पर 174 रन के स्कोर से आगे खेलना शुरू किया। भारत ने पिंक बॉल टेस्ट में शानदार गेंदबाजी के बाद बल्लेबाजी में जलवा देखने को मिल रहा है। विराट कोहली भारत की ओर से पहला डे-नाइट टेस्ट शतक जड़ने वाले बल्लेबाज बन गए।

भारतीय टेस्ट टीम के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे ने कोहली का अच्छा साथ देते हुए भारत के स्कोर पर 228 रन तक पहुंचा दिया। इस दौरान अजिंक्या रहाणे ने अर्धशतक जड़े। इस दौरान विराट कोहली भी शतक के करीब पहुंच गए लेकिन अजिंक्या रहाणे अर्धशतक में केवल एक रन ही जोड़ सके कि उनको ताइजुल इस्लाम की गेंद पर इबादत हुसैन को कैच आउट किया। उस सयम टीम का स्कोर 236 रन था।

इससे पूर्व भारत और बांग्लादेश के बीच कोलकाता के ईडन गार्डन्स स्टेडियम में ऐतिहासिक डे-नाइट टेस्ट मैच के पहले दिन ही बांग्लादेश की बल्लेबाजी भारतीय तेज गेंदबाजों के सामने ढेर हो गई है। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी बांग्लादेश की टीम की शुरुआत बेहद खराब रही है और उसकी पूरी टीम केवल 106 रन पर ऑलआउट हो गई है। भारतीय सलामी बल्लेबाज भी ज्यादा देर तक नहीं टिक पाये, लेकिन ईडन गार्डन्स पर गेंदबाजों के प्रदर्शन से उत्साहित लगभग 60 हजार दर्शकों को चेतेश्वर पुजारा (55) और विराट कोहली (नाबाद 59 रन) ने निराश नहीं होने दिया। इन दोनों ने तीसरे विकेट के लिये 94 रन की साझेदारी की। स्टंप उखडऩे के समय कोहली के साथ दूसरे छोर पर अजिंक्य रहाणे 23 रन बनाकर डटे थे।

इशांत (12 ओवर में 22 रन देकर पांच विकेट) ने पिछले 12 वर्षों में पहली बार भारतीय सरजमीं पर पारी में पांच विकेट लिये। उमेश यादव ने अपनी तेजी से बांग्लादेशी बल्लेबाजों को परेशान करके सात ओवर में 29 रन देकर तीन विकेट लिये जबकि मोहम्मद शमी ने घातक गेंदबाजी की और 36 रन देकर दो विकेट लिये। पिंक बॉल से ईशांत शर्मा ने टीम इंडिया को पहली कामयाबी दिलायी और उसके बाद भारतीय तेज गेंदबाज बांग्लादेश पर पूरी तरह से हावी होते नजर आये हैं। आलम तो यह रहा मोमिनुल हक,मोहम्मद मिथुन,मुश्फिकुर रहीम खाता तक नहीं खोल सके। इमरुल काएस (04) को ईशांत शर्मा ने पगबाधा कर दिया। इसके बाद उमेश यादव ने मोमिनुल हक (0) और मोहम्मद मिथुन (0) को शून्य पर पावेलियन की राह दिखा दी।

loading...