जरूरी सावधानी अपनाएँ, खुद बचें-ग्राहक को भी बचाएं

– बैंक व बीमा कार्यालयों में हों बचाव के सारे इंतजाम

– छोटे-छोटे बदलाव ही कोरोना से बचाव में मददगार

बाराबंकी। कोरोना वायरस यानि कोविड-19 के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए पूरे देश में चल रहे लाक डाउन के बीच भी बैंक व बीमा कार्यालय लगातार अपने ग्राहकों की सेवा में तत्पर हैं । हालाँकि, इस समय कोरोना के खतरे को देखते हुए कर्मचारियों और ग्राहकों दोनों की सुरक्षा चुनौती पूर्ण है । इन चुनौतियों का सामना जरूरी सावधानी बरतकर ही की जा सकती है । इस बारे में सरकार भी लगातार उन्हें कार्यप्रणाली में बदलाव लाने के साथ ही सुरक्षा मानकों के पालन करने को प्रेरित करने में जुट गयी है । कुछ बैंकों और बीमा कार्यालयों ने इन पर अमल करना भी शुरू कर दिया है। 

कोरोना से खुद के साथ ग्राहकों को सुरक्षित बनाने के लिए कार्यालय में प्रवेश के समय और बाहर जाते समय हाथों को स्वच्छ रखने के लिए हैण्ड सेनेटाइजर का इंतजाम करने को कहा गया है । कैश काउंटर यानि नकदी से जुड़े कर्मचारी को बार-बार हाथ साफ़ करने की हिदायत दी गयी है । एटीएम के अन्दर एक बार में एक ही व्यक्ति के प्रवेश की अनुमति का सख्ती से पालन कराने को कहा गया है । इसके अलावा बैंक प्रबंधकों से यह भी कहा गया है कि जरूरी कामों के लिए जितने कम से कम कर्मचारियों की जरूरत हो उन्हीं को बुलाया जाए । चेक ड्राप बॉक्स बैंक के बाहर ही रखे जाएँ, इससे केवल चेक जमा करने के लिए बैंक आने वाले बाहर से ही चेक डालकर निकल जायेंगे और किसी तरह का खतरा भी नहीं रहेगा । एटीएम के गार्ड द्वारा भी ग्राहकों के हाथों की सफाई सुनिश्चित करानी चाहिए । इसके अलावा अनावश्यक भीड़ से बचने के लिए काउन्टर पर एक बार में एक ही ग्राहक को अनुमति दी जानी चाहिए । पूछताछ से जुड़े कर्मचारी के बैठने की व्यवस्था कार्यालय के प्रवेश द्वार के पास ही होना चाहिए ताकि जिन ग्राहकों को ज्यादा जरूरी हो वही दफ्तर के अन्दर तक जाएँ ।

इंदिरानगर निवासी सेवानिवृत्त बैंक प्रबंधक एस.पी. द्विवेदी का कहना है कि बैंकों में लेन-देन का काम ज्यादा होता है चाहे वह पास बुक इंट्री की बात हो, चेक बुक लेना हो या कैश जमा या निकासी की । इन स्थितियों में कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा कुछ ज्यादा ही होता है । इसके लिए जरूरी है कि जब भी बैंक जाएँ तो उतने ही सामनों को लेकर जाएँ जो बहुत जरूरी हों । संभव हो तो हैण्ड सेनेटाइजर खुद अपने पास रखें और बैंक में प्रवेश करते समय और निकलते समय हाथों को स्वच्छ कर लें, मास्क/गमछा/रूमाल या स्कार्फ से मुंह व नाक को ढककर रखें, काउंटर पर एक दूसरे से उचित दूरी बनाकर रखें, जिन कागजों को छूना या काउन्टर पर जाना जरूरी हो वहीँ पर जाएँ । यही छोटी-छोटी सावधानी बरतकर आप खुद के साथ बैंक कर्मचारियों को कोरोना के वार से सुरक्षित कर सकते हैं ।

loading...