US में भारतीय यात्रियों को आसानी से मिलेगी एंट्री!

नई दिल्ली। अमरीका ने भारतीय यात्रियों के लिए ‘ग्लोबल एंट्री प्रोग्राम’ शुरू किया है, जिससे भारतीय यात्रियों को अमरीका जाने में कोई परेशानी नहीं होगी।

इसके तहत जिन लाेगाें की भूमिका संदेहात्मक नहीं है, वह इस सुविधा का अासानी से लाभ उठा सकेंगे, जबकि संदेह के दायरे में आने वाले यात्री इस सुविधा से वंचित रहेंगे।

अमरीका में भारत के राजदूत नवतेज सरना ‘ग्लोबल एंट्री प्रोग्राम’ में नामांकन करवाने वाले पहले भारतीय बने।

भारत 11वां ऐसा देश है, जिसके नागरिक कस्टम और बॉर्डर प्रोटेक्शन में नामांकन के लिए योग्य हैं।

इस प्रोग्राम का सदस्य बनने के लिए कठिन इंटरव्यू से गुजरना होगा। ग्लोबल एंट्री प्रोग्राम का लाभ अमरीका के 53 एयरपोर्ट और 15 पूर्व निर्धारित जगहों पर मिलेगा।

इस कार्यक्रम के सदस्य बने भारतीय नागरिकों काे अमरीका के चुनिंदा एयरपोर्ट पर इमिग्रेशन क्लियरेंस से जुड़े अधिकारी से मिलने के लिए लाइन में खड़े होने की जरूरत नहीं होगी।

वे ऑटोमेटिक ग्लोबल एंट्री क्यिोसक के जरिए अमरीका में प्रवेश कर सकेंगे। अमरीकी कस्टम एंड बॉर्डर प्रोटेक्शन के कार्यकारी आयुक्त केविन मैकअलीनन ने कहा, सीबीपी भारतीय नागरिकों को अपने फ्लैगशिप विश्वसनीय ट्रैवलर कार्यक्रम की सुविधा देने के लिए उत्साहित है।

loading...