बंधक की आपबीती: आतंकियों ने बच्ची को सामने मारा, पत्नी से किया रेप

टोरंटो। हक्कानी नैटवर्क की गिरफ्त से छूटे कनाडाई नागरिक जोशुआ बोयले अपने देश पहुंच चुके हैं। जोशुआ अपनी पत्नी और 3 बच्चों के साथ पिछले 5 साल से हक्कानी आतंकी नैटवर्क के कब्जे में थे।

शनिवार को जब वह अपने देश कनाडा पहुंचे तो उन्होंने बीते 5 वर्षों की आपबीती कहानी बताई और तब सामने आया कि उनके सिर्फ 3 नहीं बल्कि 4 बच्चे थे लेकिन आतंकियों ने उनकी एक नन्ही-सी बच्ची को उनके सामने ही मार दिया।

इतना ही नहीं, आतंकियों ने उनकी पत्नी और अमरीकी नागरिक कैटलान कोलमैन के साथ दुष्कर्म भी किया। कैटलान और बोयले को बुधवार को तालिबान से जुड़े आतंकी संगठन के चंगुल से छुड़ाया गया था। कोलमैन उस समय भी गर्भवती थीं और बंधक रहते हुए उन्होंने 4 बच्चों को जन्म दिया।

loading...