अब आज़म का विवादित बयान, कहा- गुलामी की निशानी है लाल किला व कुतुबमीनार

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार की पर्यटन पुस्तिका में से ताजमहल का नाम हटाए जाने के बाद मचा बवाल थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। ताजमहल को लकेर भाजपा के विधायक संगीत सोम के बाद अब आज़म खान ने विवादित बयान दिया है। सपा सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे खान ने सिर्फ ताजमहल को ही नहीं बल्कि दिल्ली के लाल किला व कुतुबमीनार को भी गुलामी की निशानी बताया है।

जानकारी के अनुसार मंगलवार को मीडिया से बात करते हुए खान ने कहा कि हम लोगों को गुलामी की सभी निशानियों को नष्ट कर देना चाहिए जो हमें याद दिलाती हैं कि उन्होंने हमपर राज किया था।

मैंने पहले भी कहा है कि हमें संसद, कुतुब मिनार, राष्ट्रपति भवन, लाल किला और आगरा का यह ताजमहल सब नष्ट कर देना चाहिए।उन्होंने कहा कि अगर योगी सरकार ताजमहल को तुड़वाने की पहल करती है, तो वह इसको अपना समर्थन देंगे।

loading...