हार्दिक पटेल को मिली बड़ी राहत, कोर्ट ने किया गिरफ्तारी वारंट रद्द

नई दिल्ली। गुजरात चुनाव से पहले पाटीदार आरक्षण आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल को गुजरात की स्‍थानीय अदालत ने बड़ी राहत दी है। उनके खिलाफ बुधवार को जारी किए गए गैर-जमानती गिरफ्तारी वारंट को अदालत ने रद्द कर दिया है।

हार्दिक पर साल 2015 के पाटीदारों के आरक्षण आंदोलन के दौरान भाजपा विधायक ऋषिकेश पटेल के कार्यालय में तोडफ़ोड़ का केस चल रहा है। उनके अलावा 6 और लोगों के खिलाफ वारंट जारी हुआ था।

दो बार कोर्ट से समन के बावजूद हाजिर नहीं होने पर गैर जमानती वारंट जारी हुआ। सभी आरोपियों को इस मामले में पहले जमानत मिल गई थी।

वारंट जारी होने के बाद हार्दिक ने कहा था कि वो सरेंडर करने के लिए तैयार हैं। वह अदालत में अपने 5 सहयोगियों के साथ पहुंचे जहां सभी आरोपियों को जमानत मिल गई। हार्दिक ने ट्वीट किया कि हमारा वारंट रद्द कर दिया गया है, सत्यमेव जयते।

इससे पहले उन्होंने व्यस्त कार्यक्रम का हवाला देते हुए व्यक्तिगत पेशी से छूट देने की मांग वाली याचिका कोर्ट में दायर की थी जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया था।

loading...