CD कांड में सीनियर पत्रकार विनोद गिरफ्तार, हो सकते हैं कई अहम खुलासे

नई दिल्ली। छत्तीसगढ़ पुलिस ने पूर्व वरिष्ठ पत्रकार और एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया के मेंबर विनोद वर्मा को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने उन्हें गाजियाबाद स्थित उनके घर से गिरफ्तार किया है।

दरअसल विनोद वर्मा की यह गिरफ्तारी एक मंत्री की सीडी से संबंधित बताई जा रही है। विनोद वर्मा के खिलाफ पुलिस ने धारा 384 (रंगदारी वसूलने) और धारा 506 (जान से मारने की धमकी) के आधार पर केस दर्ज कर लिया है।

पत्रकारों के सावालों से घबराई पुलिस

विनोद वर्मा को गिरफ्तार किए जाने के बाद छत्तीसगढ़ पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पत्रकारों के सवालों के जवाब देने से घबराती रही। पुलिस ने बताया कि इस मामले में मंत्री के एक करीबी द्वारा शिकायत दर्ज कराए जाने के बाद यह कार्रवाई की गई। छापेमारी के दौरान उसके घर से सीडी की 500 कापियां, लैपटॉप, पेन ड्राइव और लैपटॉप बरामद किया गया, जिसे कब्जे में कर लिया गया।

आपको बता दें कि रायपुर क्राइम ब्रांच के टीआई और उनकी टीम सुबह 4 बजे ही विनोद वर्मा को इंदिरापुरम थाने लेकर पहुंच गई थी। जिसके जल्द ही उन्हें कोर्ट के सामने पेश कर दिया जाएगा। वहीं, दूसरी तरफ विनोद वर्मा की तरफ से कोई भी प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है।

loading...