प्रेस वार्ता में पत्रकार के सवाल पर भड़की राधे मां, दी यह धमकी

लखनऊ।  संभल के कल्कि महोत्सव में पहुंची राधे मां एक सवाल पर इतना भड़क गई कि प्रेस वार्ता ही बंद करनी पड़ गई। इतना ही नहीं रो-रो कर अपना दुखड़ा सुनाने वाली राधे मां यहां अपनी जुबान पर काबू पाने में असमर्थ रही है।

दरअसल राधे मां पत्रकार वार्ता के दौरान तीखे सवालों पर ऐसी भड़कीं कि पत्रकारों से कहने लगी कि तुम मुझे मार डालो। सवालों से बौखलाई राधे मां ने कहा कि मुझ पर क्या आरोप लगते हैं, मैंने किसी का क्या बिगाड़ा है। पत्रकारों से कहा कि मुझ पर आरोपों की बात करते हो, तुम कहां दूध से धुले हो।

बता दें कल्कि महोत्सव में शिरकत करने पहुंचीं राधे मां पत्रकारों के सवालों के केवल 10 मिनट तक ही सहजता से जवाब दे पाईं। इस दौरान राधे मां ने कहा कि मैं संत नहीं हूं, साधु नहीं हूं, मैं केवल राधे मां, सबको सीधी राह दिखाने वाली मां हूं। लेकिन जल्द ही भड़क गई और बोली, मेरे ऊपर कोई आरोप नहीं मैं पाक साफ हूं। मेरा बाहरी रूप कुछ और है, और अंदर कुछ और है। मैं चुप रही, मैंने कहा था मैं वक्त पर बोलूंगी। अभी मेरा वक्त नहीं आया।

वहीं एक पत्रकार ने सवाल करना चाहा तो राधे मां बोलीं कि मेरे अंदर रडार फिट है, चाहूं तो तुम्हारी पूरी जिंदगी का लेखा-जोखा बता दूंगी। सवाल पूछने वाले पत्रकार से कहा तुम्हारे ऊपर इस समय शनि की दशा चल रही है, आज नहीं तो तुम कल स्वीकार करोगे कि राधे मां ने सही कहा था।

एक पत्रकार ने पूछा कि क्या आप अपने आप को अब भी महा मंडलेश्वर मानती हैं। तो बोलीं आईएम आनली प्योर एंड पाइस। फिर बोलीं, इसका मतलब समझते हो, कितने पढ़े हो। दूसरे पत्रकार से पूछा तुम कितने पढ़े हो। जब पत्रकार ने जवाब दिया स्नातक हूं तो उसे अंग्रेजी का लंबा चौड़ा वाक्य बोलकर कहा कि बताओ इसका हिन्दी अर्थ क्या है। यहां तक के सवाल जवाब में राधे मां का पारा चढ़ने लगा था। पंद्रह दिन बाद मैं बात करूंगी कि मैं पाक साफ हूं या नहीं हूं।

दूसरे पत्रकार ने पूछा, पंद्रह दिन में कौन सा बदलाव आने वाला है। जिस पर राधे मां का सब्र जवाब दे गया और पत्रकारों पर चीखते चिल्लाते कहने लगीं, रोज रोज यही सब बातें, तुम लोग मार डालों मुझे। फिर बोलीं, बहुत हो गया उठाओ कैमरे यहां से। जिसके बाद माहौल खराब होता देख प्रेसवार्ता बंद करनी पड़ गई।

loading...