शाहजहांपुर में निर्भया जैसी हैवानियत, पुलिस ने बताया मामूली रेप, PM रिपोर्ट से खुली पोल

शाहजहांपुर। शाह जहांपुर में निर्भया जैसी गैंगरेप की घटना उजागर हुई थी, जिसमें पुलिस ने जल्दबाजी के चलते साधारण रेप बताकर एक अधेड़ को गिरफ्तार कर लिया। वहीं आज पोस्टमार्टम की रिपोर्ट में डॉक्टरों के खुलासे ने पुलिस को लापरवाह साबित कर दिया है।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट ने खोली पुलिस की पोल
बता दें पोस्टमार्टम करने वाले डाक्टरों का दावा है कि ये एक गैंगरेप था जिसके बाद नाबालिग की हत्या की गई है। वहीं पुलिस की खानापुर्ति वाली कार्यवाही से नाराज परिवार ने सही खुलासा ना होने पर आत्मदाह की धमकी दी है। साथ योगी सरकार से मामले की सीबीआई जांच कराने की गुहार लगाई है।

दरअसल यह दिल दहला देने वाली घटना थाना रौजा इलाके की है। जहां की निवासी सोनी(बदला हुआ नाम) का 17 अक्टूबर को दिनदहाड़े अपहरण कर लिया गया था। रिपोर्ट के मुताबिक दरिंदों ने उसके साथ गैंगरेप के बाद हैवानियत बरती थी।पोस्टमार्टम रिपोर्ट करने वाले डाक्टरों की मानें तो जिस बेरहमी से नाबालिग की हत्या हुई थी। वो किसी अकेले हत्यारे का काम नही है।

उन्होंने बताया कि 2 या 3 लोगों ने मिलकर इस घटना को अंजाम दिया है। रिपोर्ट के मुताबिक नाबालिग के प्राईवेट पार्ट को बुरी तरह से क्षतिग्रस्त किया गया था। इसके साथ ही उसके शरीर पर चाकुओं के कई निशान भी मौजूद थे। उनके अनुसार उसकी गला दबाकर हत्या की गई है। जबकि पुलिस ने मामले में खानापूर्ति करते हुए एक अधेड़ शख्स को आरोपी बना कर उसे जेल भेज दिया।

बता दें इस घटना के बाद पूरा गांव दहशत में है। गांव की ज्यादातर लड़कियों ने स्कूल जाना छोड़ दिया है। परिवारवालों की मानें तो पुलिस ने एक फर्जी खुलासा किया है। उनके अनुसार असली गुनहगार खुले में घूम रहे है। जो कभी भी दूसरी वारदात को अंजाम दे सकते हैं।

परिजनों ने दी सामूहिक आत्मदाह की धमकी
इतना ही नहीं परिवार ने सीएम योगी और पीएम मोदी से गुहार लगाई है कि पूरे मामले की सीबीआई जांच कराई जाए। परिजनों ने आहत होकर प्रशासन को धमकी दी है कि अगर उन्हें न्याय नही मिला तो वो सामूहिक आत्मदाह कर लेंगे।

 

loading...