कांग्रेस नेता ने बुरहान के मौत पर जताया दुख, कह डाली ये बात

मुंबई। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री सैफुद्दीन सोज ने कश्मीर में मारे गए आतंकी बुरहान वानी के बारे कहा है कि अगर वह सत्ता में होते तो उसे जिंदा रखते और उससे बात करते।

उन्हाेंने कहा, मैं उसे मरने नहीं देता। उसे समझाने की कोशिश करता कि पाकिस्तान, कश्मीर और भारत के बीच दोस्ती का पुल बनाया जा सकता है और इस काम में वह मददगार साबित हो सकता है। लेकिन वह मर चुका है, हमें कश्मीरियों के दर्द को समझना चाहिए।

कौन है सैफुद्दीन सोज?
सैफुद्दीन साल 1983 में नेशनल कॉन्फ्रेंस से बारामूला लोकसभा सीट से चुनाव जीत कर आए थे। इसके बाद साल 1990 में वह राज्यसभा में पहुंचे। साल 1997-98 में वह इंद्र गुजराल सरकार में केंद्रीय पर्यावरण एवं वन मंत्री बने।

इसके बाद साल 1998-99 में देवेगौगड़ा सरकार में भी मंत्री रहे। साल 1999 में अटल बिहारी सरकार के खिलाफ वोट देने पर उन्हें पार्टी से निकाल दिया गया था। साल 2003 में वह कांग्रेस में शामिल हुए और राज्यसभा पहुंचे। साल 2006 से 2009 तक वह मनमोहन सिंह की कैबिनेट में मंत्री रहे।

loading...