इरफान खान को ‘न्यूरोइंडोक्राइन ट्यूमर’, डॉक्टर कुमार ने बोली यह बात

मनोरंजन डेस्क। इरफान खान ने बताया कि उन्हें न्यूरोइंडोक्राइन ट्यूमर है। यह कैंसर का दुर्लभ प्रकार है। अभिनेता इलाज के लिए विदेश में हैं। अभिनेता (51) ने कहा कि इस बीमारी से मुकाबला कठिन है लेकिन उनके करीबी लोगों ने इससे लड़ने में उनकी मदद की और उम्मीद की राह दिखायी।

इरफान ने एक बयान में कहा, ‘अप्रत्याशित चीजें हमें मजबूत बनाती हैं और पिछले कुछ दिन ऐसे ही रहे हैं। न्यूरोइंडोक्राइन ट्यूमर होने का पता चलने के बाद निश्चित तौर पर मुश्किल हुई लेकिन मेरे करीबी लोगों ने जो प्यार और हिम्मत मुझे दी, उससे मेरे अंदर उम्मीद पैदा हुई।’

अभिनेता ने कहा कि इससे संबंधित कोशिश उन्हें देश से बाहर ले जा रही है।उन्होंने सभी से अपनी शुभकामनाएं भेजते रहने की गुजारिश की है। ‘पीकू’ फिल्म के अभिनेता ने उनकी बीमारी से जुड़ी अफवाहों पर यह कहकर विराम लगा दिया कि न्यूरो का संबंध हमेशा मस्तिष्क से नहीं होता है। अभिनेता ने उनके स्वास्थ्य को लेकर अटकल नहीं लगाने वालों को शुक्रिया भी कहा।

अभिनेता ने अपने बयान में कहा कि जो अफवाह फैलायी गयी उस संबंध में उन्हें कहना है कि न्यूरो का ताल्लुक हमेशा मस्तिष्क से नहीं होता है और गूगल करना शोध का सबसे आसान तरीका है। इरफान ने कहा उन्हें उम्मीद है कि वह और कहानियों के साथ वापस लौटेंगे।

नयी दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान( एम्स) के सर्जरी, ( आंकोलॉजी) विभाग में प्रोफेसर डॉक्टर सुनील कुमार ने न्यूरोइंडोक्राइन ट्यूमर को कैंसर का दुर्लभ प्रकार बताया।

कुमार ने ‘पीटीआई’ को बताया कि अगर बीमारी का जल्द पता चल जाता है तो इसका इलाज संभव है। इरफान ने सबसे पहले पांच मार्च को अपने स्वास्थ्य के बारे में कहा था कि वह एक दुर्लभ बीमारी से पीड़ित हैं लेकिन तब जांच का अंतिम निष्कर्ष सामने नहीं आया था।

loading...