आईबीटी में वर्ल्ड टॉपर सीएमएस का एक और छात्र 50,000 के नगद पुरस्कार से किया गया सम्मानित

प्रधानाचार्या संगीता बनर्जी ने रु. 50,000/- के नगद पुरस्कार से किया सम्मानित

लखनऊ। सिटी मोन्टेसरी स्कूल, गोमती नगर (द्वितीय कैम्पस) के कक्षा-9 के छात्र अथर्व नारायन ने इण्टरनेशनल बेन्चमार्क टेस्ट (आई.बी.टी.) में विज्ञान विषय में 100 परसेन्टाइल के साथ विश्व में प्रथम रैंक अर्जित कर देश का मान बढ़ाया है। इस ऐतिहासिक उपलब्धि हेतु सी.एम.एस. गोमती नगर (द्वितीय कैम्पस) की प्रधानाचार्या संगीता बनर्जी ने विद्यालय के ऑडिटोरियम में आयोजित सम्मान समारोह में अथर्व को रु. 50,000/- का नगद पुरस्कार प्रदान कर सम्मानित किया। इस अवसर पर सी.एम.एस. संस्थापक डा. जगदीश गाँधी ने भी इस मेधावी छात्र को आशीर्वाद देते हुए उसके उज्जवल भविष्य की कामना की। समारोह में अथर्व के माता-पिता समेत बड़ी संख्या में शिक्षक, छात्र व अभिभावक उपस्थित थे। विदित हो कि आस्ट्रेलियन काउन्सिल फॉर एजुकेशन रिसर्च (एसीईआर) के तत्वावधान में आयोजित इण्टरनेशनल बेन्चमार्क टेस्ट (आई.बी.टी.) में कई देशों के छात्रों ने प्रतिभाग किया, जिसमें भारत से ही लगभग पचास हजार से अधिक छात्र शामिल थे।

सम्मान समारोह के उपरान्त आयोजित एक प्रेस कान्फ्रेन्स में अथर्व ने अपनी सफलता पर चर्चा करते हुए कहा कि विज्ञान मेरा प्रिय विषय है और मेरे शिक्षकों ने मुझे अपनी रूचि के अनुसार आगे बढ़ने को प्रेरित किया। अथर्व ने आगे कहा कि इस सफलता हेतु मुझे जो सम्मान व पुरस्कार प्रदान किया गया है, वह जीवन भर मुझे उत्कृष्टता हेतु प्रेरित करता रहेगा। इस अवसर पर सी.एम.एस. गोमती नगर (द्वितीय कैम्पस) की प्रधानाचार्या संगीता बनर्जी ने कहा कि सी.एम.एस. छात्र शैक्षिक क्षेत्र में जिस प्रकार नये-नये कीर्तिमान गढ़ रहे हैं, वह केवल सी.एम.एस. के लिए ही नहीं अपितु लखनऊ के लिए गर्व का विषय है। हमारा लगातार यही प्रयास है कि विभिन्न रचनात्मक प्रतियोगिताओं के माध्यम से छात्रों की बहुमुखी प्रतिभा को निखारा एवं प्रोत्साहित किया जाए।

प्रेस कान्फ्रेन्स में सी.एम.एस. संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा जगदीश गाँधी ने अथर्व की शानदार सफलता पर बधाई व आशीर्वाद देते हुए कहा कि सी.एम.एस. छात्रों की सफलताएं विद्यालय के छात्रों व शिक्षकों के अथक परिश्रम का प्रतिफल तो है ही, साथ ही सी.एम.एस. की अनूठी शिक्षा पद्धति भी इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। हमारा सारा प्रयास छात्रों के सर्वांगीण विकास को समर्पित है जिससे सी.एम.एस. छात्र शैक्षिक क्षेत्र में उपलब्धियाँ अर्जित करने के साथ ही चरित्रवान व शालीन भी बनें। डा. गाँधी ने आगे कहा कि यह अभूतपूर्व अवसर है कि सी.एम.एस. के तीन छात्रों ने इण्टरनेशनल बेन्चमार्क टेस्ट में विश्व में शीर्ष रैंकिंग अर्जित की है और इन तीनों छात्रों को विद्यालय द्वारा रु. 50,000/ का नगद पुरस्कार प्रदान कर प्रोत्साहित किया गया है। इन छात्रों में सी.एम.एस. गोमती नगर (द्वितीय कैम्पस) की कैम्ब्रिज सेक्शन की कक्षा-8 की छात्रा अनहिता सिंह, सी.एम.एस. गोमती नगर (द्वितीय कैम्पस) के कक्षा-9 के छात्र अथर्व नारायन एवं सी.एम.एस. अलीगंज (प्रथम कैम्पस) का कक्षा-4 का छात्र आयुष शुक्ला शामिल है।

loading...