राज्यसभा से इस्तीफे के बाद लालू का मायावती को ये ऑफर

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में कथित दलित विरोधी हिंसा को लेकर बसपा प्रमुख मायावती के राज्यसभा से इस्तीफा दिए जाने के बयान को साहसिक कदम बताते हुए राजद प्रमुख लालू प्रसाद ने उन्हें राजद से राज्यसभा भेजने की पेशकश की और कहा कि वे उनके साथ हैं।

लालू ने कहा कि आज का दिन इतिहास के पन्नों में काले दिन के तौर पर अंकित किया जाएगा क्योंकि आज उच्च सदन में गरीबों और दलितों की स्थापित नेता मायवती को गरीबों की बात उठाने नहीं दिया गया।

उन्होंने भाजपा सदस्यों पर मायावती के सदन में बोलने के दौरान रुकावट डालने का आरोप लगाते हुए उनकी घोर निंदा करते हुए मायावती के इस्तीफा देने के बयान को साहसिक कदम बताया और कहा कि वे उनसे अपील करते हैं कि वे देश में घूमे और भाजपा के अहंकार को तोड़ें, हम उनके साथ होंगे।

लालू ने कहा कि चाणक्य ने कहा था कि जिस सभा में जायज बातों को न सुना जाए और बहुमत का भय दिखाकर लोगों को बोलने नहीं दिया जाए वह कोई सभा नहीं है।

 

loading...