चंद्र ग्रहण में गर्भवती महिलाएं क्या करें, क्या न करें

1. चंद्र ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं को घर में ही रहने की सलाह दी जाती है। ऐसा माना जाता है कि चंद्र ग्रहण का गर्भ में बुरा असर हो सकता है, इसलिए ग्रहण के वक्त गर्भवती महिलाओं घर में रहना चाहिए।

2. चंद्र ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं को नोकदार चीजें जैसे चाकू, कैंची, सूई का उपयोग नहीं करना चाहिए। मान्यता है कि ऐसा करने पर गर्भ में शिशु को नुकसान हो सकता है।

3. गर्भवती महिलाओं को ग्रहण के दौरान कुछ भी नहीं खाना चाहिए क्योंकि ग्रहण के वक्त पड़ने वाली किरणें खाने को खराब कर देती हैं। साथ ही ऐसा माना जाता है कि ग्रहण से पहले सभी खाने की चाजें और दूध में तुलसी डाल दें। ऐसा करने से ग्रहण के बाद भी खाना शुद्ध रहता है।

4. ज्योतिष के मुताबिक ग्रहण के बुरे असर से बचने के लिए गर्भवती महिलाओं को तुलसी मुंह में रखकर हनुमान चालीसा और दुर्गा स्तुति का पाठ करना चाहिए। ऐसा करने से नकारात्मक शक्तियों का प्रभाव नहीं होता।

5. ग्रहण की अवधि समाप्त होने के बाद गर्भवती महिलाओं को शुद्ध जल से स्नान जरूर करना चाहिए। मान्यता है कि ऐसा नहीं करने से शिशु को त्वचा संबधी रोग लग सकते हैं।

6. चंद्र ग्रहण के वक्त मानसिक रूप से भी मंत्र जाप का बड़ा महत्व बताया गया है। गर्भवती महिलाएं इस दौरान मंत्र जाप कर अपनी रक्षा कर सकती हैं। इससे उनके और गर्भ में शिशु के स्वास्थ्य पर अच्छा असर पड़ता है।

loading...