बसपा महासचिव सतीश मिश्रा लड़ेंगे खुशी दुबे का केस

लखनऊ। कानपुर एनकाउंटर में मारे गए गैंगस्टर विकास दुबे की बहू खुशी दुबे का केस अब बीएसपी के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा लड़ेंगे। बीएसपी नेता और पूर्व मंत्री नकुल दुबे ने इस बात की जानकारी दी है। दरअसल खुशी दुबे फिलहाल जेल में बंद है। उस पर पुलिस हत्याकांड में शामिल होने का आरोप है। खुशी दुबे विकास दुबे के खास अमर दुबे की पत्नी है।

बिकरू में पुलिसकर्मियों की हत्या के मामले में खुशी दुबे पर ही साजिश रचने का आरोप लगाया था। जिसके बाद पुलिस ने उसे जेल भेज दिया था। लेकिन किशोर न्याय बोर्ड ने उसे नाबालिग करार दे दिया था। अब बीएसपी के पूर्व मंत्री नकुल दुबे ने उसकी तरफ मदद का हाथ बढ़ाया है। उन्होंने पहले ही इस बाक के संकेत दिए थे कि सीनियर वकील सतीश मिश्रा खुशी दुबे का केस लड़ सकते हैं।

अयोध्या में नकुल दुबे ने कहा था कि अगर खुशी दुबे या उनके परिवार का कोई भी सदस्य सतीश मिश्रा से संपर्क कर उनसे केस लड़ने की पेशकश करता है तो वह खुशी दुबे का केस लड़ सकते हैं। अब यह बात साफ हो गई है कि वह खुशी दुबे का केस लड़ेंगे।

8 पुलिसकर्मियों की हत्या जघन्य अपराध
दरअसल इलाहाबाद हाईकोर्ट ने विकास दुबे की बहू खुशी दुबे की जमानत याचिका खारिज कर दी थी। 16 जुलाई को हुई सुनवाई में कोर्ट ने कहा था कि 8 पुलिसकर्मियों की हत्या नॉर्मल बात नहीं बल्कि जघन्य अपराध है। यह घटना समाज की अंतरआत्मा को झकझोर देने वाली है।

loading...